eng
competition

Text Practice Mode

साक्ष्य कंम्प्यूटर इंस्‍टीट्यूट किरनापुर

created Nov 14th, 16:37 by firatpanche


0


Rating

262 words
0 completed
00:00
 स्कूली छात्रों पर बस्ते का बोझ कम करने के लिए सरकार ‘ई-बस्ता’ कार्यक्रम को आगे बढ़ा रही है। इसके जरिये छात्र अपनी रुचि और पसंद के मुताबिक पाठ्यसामग्री डाउनलोड कर सकेंगे। साथ ही स्कूलों में डिजिटल ब्लैकबोर्ड भी लगाया जाएगा। मानव संसाधन विकास मंत्रलय के एक अधिकारी ने बताया कि स्कूली बच्चों पर बस्ते के बढ़ते बोझ को कम करने के लिए यह कार्यक्रम शुरू किया गया था। इसे लेकर छात्रों, शिक्षकों ने इसमें काफी रुचि दिखाई है।  
 
 
एनसीईआरटी के आंकड़ों के अनुसार, ‘ई-बस्ता’ के संदर्भ में अब तक 2350 सामग्री तैयार की जा चुकी है। इसके साथ ही 53 तरह के ई-बस्ते तैयार किए गए हैं। अब तक 3294 ‘ई-बस्ता’ को डाउनलोड किया जा चुका है। इसके अलावा 43801 ई-सामग्री डाउनलोड की जा चुकी है।
 
मानव संसाधन विकास मंत्रलय ने ई-बस्ता के संबंध में एक एप भी तैयार किया है जिसके जरिये छात्र टैबलेट, एंड्रॉयड फोन आदि के माध्यम से सामग्री डाउनलोड कर सकते हैं। स्कूलों में डिजिटल शिक्षा को आगे बढ़ाने की इस पहल के तहत मंत्रलय ने कुछ समय पहले 25 केंद्रीय विद्यालयों में कक्षा आठ के सभी बच्चों को टैबलेट दिए जाने की एक प्रायोगिक परियोजना शुरू की थी।
 
एनसीईआरटी के एक अधिकारी ने बताया कि पहली कक्षा से 12वीं कक्षा तक की पुस्तकों के संदर्भ में ई-सामग्री तैयार की जा रही है। इनके बारे में विषयवस्तु समझाने के लिए दृश्य श्रव्य सामग्री (ऑडियो एवं वीडियो) का विकास किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि इसका काम अभी पूरा नहीं हुआ है और उम्मीद है कि एक साल में इस काम को पूरा कर लिया जाएगा।

saving score / loading statistics ...