eng
competition

Text Practice Mode

SATENDRA COMPUTER CENTER BAZARIYA BHIND 9893251479

created Jan 13th, 14:14 by Vishnu Barua


0


Rating

442 words
207 completed
00:00
वाहनों का भी वायुप्रदूषण में बड़ा योगदान है यह मायने नहीं रखता कि आप अपने वाहन को साफ सुथरा रखते है समय पर सर्विस कराते है प्रदूषण के अनुकूल बीएस4 वाहन काम में ले रहे है हर साल आठ गुना वाहन शहर की सड़कों पर जुड़ जाते है तो आपके सारे प्रयास विफल हो जाते है इससे बचने के लिए सार्वजनिक परिवहन की व्यतवस्था  को सुद्रढ़ करना होगा हर सर्दियों में हालत बिगड़ने पर सार्वजनिक मंचों पर इस पर बातें तो खूब होती है लेकिन हालात जस के तस ही रहते है अब भी सार्वजनिक परिवहन के नाम पर सड़कों पर कुछ ही बसें देखने तो मिलती है इस तथ्य  तो किसी भी सूरत में नजरअंदाज नहीं किया जा सकता कि बिना सहज सुलभ और सस्तेह सार्वजनिक परिवहन के आप वायुप्रदूषण को नियंत्रित नहीं कर सकते इसकी कमी के चलते हर सर्दियों में मौसम के खिलाफ जंग में हार का मुँह देखना पड़ता है वही दूसरी ओर उद्योगों में सस्ताद होने के चलते पेट कोक का इस्तेंमाल किया जा रहा है पेट कोक को बॉटम ऑफ बेरल फ्यूल कहा जाता है पेट कोक को पेट्रोलियम रिफाइनरीया बेकार होने के कारण फेंक देती है अमरीका में यह प्रतिबंधित होने के कारण वह इसे विकासशील देशों को निर्यात कर देता है पूर्व में चीन इसे आयात करता था चीन ने वाद में यह कहते हुये कि हम प्रदूषित हो चुके है हमें तुम्हा रा कचरा नहीं चाहिए पेट कोक का आयात करने से मना कर दिया यह शर्मनाम है कि भारत में आज भी इसे बड़ी मात्रा में आयात किया जा रहा है पिछले साल भारत ने 1.4 करोड़ टन पेट कोक का आयात किया यह हमारे घरेलू उपभोग से भी कई गुना ज्या दा है यही पेट कोक उद्योगों में ईधन के रूप में काम आकर प्रदूषण का बड़ा कारण बनता है और जब हमने इस पर रोक के लिए अदालत में अपील की तो देश के बड़े से बड़े वकील इसके खिलाफ पेरवी करने गये कि कैसे भी इस पर पाबंदी को रोका जा सके ऐसे में सवाल उठता है कि क्या  हम बाकई प्रदूषण के लिये गंभीर है स्थिति बेकाबू होने पर हर बार ऐसे वाहनें बनाए जाते है कि प्रदूषण के लिए यह नहीं है फला चीज जिम्मेणदार है हकीकत यह है कि खामियाजा हम सब भुगत रहे है देश में कई भी सरकार के पास कचरा निस्तादरण की कोई कार्य योजना ही नहीं है इन सबको प्राथमिकता में रखते हुये ठोस योजना बनाकर उस दिशा में सही कदम उठाने होंगे। प्रदूषण के खिलाफ जंग जितना मुश्किल है नामुमकिन नहीं लेकिन इसके लिए बड़े पैमाने पर सही मंशा से परिवर्तन करने होंगे। सतेंद्र कम्‍प्‍यूटर सेंटर बजरिया भिंड 9893251479

saving score / loading statistics ...