eng
competition

Text Practice Mode

वायु प्रदुषण पार्ट-2- BY (A.K.G...!!)

created Jan 13th, 15:47 by A.K.Goyal........!!!


1


Rating

528 words
8 completed
00:00
वायु प्रदुषण के खतरे-
वायु प्रदुषण से होने वाली बीमारियों ,कुप्रभावो तथा खतरों को निम्न प्रकार से वर्णित कर सकते है
अस्थायी प्रभाव - लगातार बिना किसी कारण के खांसी रहना, हमेशा सर्दी जुकाम बने रहना, श्वसन रोगों का आक्रमण होते रहना, बैचैनी रहना तथा श्रम शक्ति पर कुप्रभाव
स्थायी प्रभाव- दीर्घ श्वासनली शोध, फुफ्फुसो का संक्रमण, क्षयरोग, दमा, फुफ्फुस कैंसर, मस्तिष्क, गुर्दों एवं नाड़ी प्रणाली का प्रभावित होना, वायुजनित रोगों का मुख्य कारण, वायुजनित संक्रमण
वनस्पति पर पड़ने वाले प्रभाव- वायु प्रदुषण विशेषकर सल्फरडाईऑक्साइड, कोहरे, फ्लोरिन यौगिको के दुष्प्रभाव से पौधों का विकास अवरुद्ध हो जाता है संदूषित वनस्पति के सेवन से पशु बीमार हो जाते है |
सामजिक एवं आर्थिक प्रभाव- धुल, धुँआ, कालिख इत्यादि के कारण भवनों का बदरंग होना,  मकानों की मरम्मत एवं रंग-रोगन से होने वाली आर्थिक हानि,  अप्रिय गंध से बैचैनी होना,  कोहरे या धुएं के कारण दृश्यता का कम होना तथा इनके कारण रेल, सडक यातायत में बाधाये एवं दुर्घटना
वायु प्रदुषण से बचाव के उपाय-
वायु प्रदुषण की समयसा का समाधान तथा सुरक्षात्मक उपायों हेतु विश्व स्वास्थ्य संघठन के अधीन विभिन्न देशो ने संयुक्त अभियान छेड़ रखा है | भारत देश में संसाधनों एवं जागरूकता का अभाव इस समस्या के निवारण में बहुत बड़ी बाधा है | सम्मिलित प्रयासों से ही वायु प्रदुषण और नियन्त्रण सम्भव है | इस हेतु उपाय निम्न प्रकार है
प्राथमिक नियन्त्रण-  
वायु प्रदुषण के स्त्रोतों (घरेलू, औधोगिक, यातायात ) पर प्राथमिक स्तर पर ही यदि रोक लगा दी जावे तो समस्या का निदान काफी सीमा पर सम्भव है इसके लिए इंधन की श्रेणी में परिवर्तन, धुआरहित चूल्हों का उपयोग तथा कूड़ा करकट के निस्तारण की उपयुक्त विधिया अपनाना आवश्यक है | यातायात संबधी प्राथमिक नियन्त्रण में सम्मिलित है
निजी वाहनों की संख्या कम करना
सार्वजनिक वाहन प्रणाली की समुचित सुविधाए
पेट्रोल , डीजल के स्थान पर सौर, जल, गैस एवं विद्युत उर्जा से चलने वाले वाहनों का अविष्कार एवं उत्पादन |
सीसा रहित पेट्रोल (यू.एल.पी.) का उपयोग
वाहनों की उम्र निर्धारित करना
वाहनों का दुरूपयोग रोकना
कार्यालयों , निजी संस्थानों द्वारा अनुबंधित बसों का उपयोग करना ताकि स्कूटर , मोटरसाइकिल ,स्वचालित बाइको का प्रयोग कम हो |
कानूनी नियन्त्रण-
केंद्र एवं राज्य स्तर पर औद्योगिक प्रदुषण नियन्त्रण मंडलो की स्थापना
प्रदुषण नियन्त्रण सम्बन्धी प्रमाण पत्र की अनिवार्यता, वायु कानून (1981) का पालन करना
पर्यावरण संरक्षण हेतु निजी संस्थानों को बाध्य करना
जनशिक्षा-
वायु प्रदुषण का नियन्त्रण, जनता की सहभागिता के बिना सम्भव नही है अत: स्वास्थ्य शिक्षा में वायु प्रदुषण की रोकथाम विषय पर पर्याप्त महत्व दिया जाना आवश्यक है | नागरिको को इस संबध में अपने अधिकारों एवं कर्तव्यो का बोध कराना जरुरी है | परिवहन, पुलिस, अभियांत्रिकी, वन, चिकित्सा विभाग को समन्वित एवं समान रूप से उत्तरदायी बनाना भी आवश्यक है | स्वैच्छिक स्वयं सेवी संस्थान तथा स्थानीय प्रशाशन का भी इस विषय में उत्तरदायित्व निभाना महत्वपूर्ण है
अन्य उपाय-
स्वैच्छिक/सरकारी वनारोपण को प्रोत्साहन
जंगलो की कटाई को हतोत्साहित करना
औद्योगिक संस्थानों को आवासी कॉलोनियो से दूर बसाना
कचरे का उपयुक्त विधि से निस्तारण करना
पुल बनाकर वाहन में यात्रा करना
वाहन चलाते समय मास्क, चश्मे का प्रयोग करना
जलाऊ लकड़ी के स्थान पर उर्जा का अन्य विकल्प ढूँढना
उद्योगों के आसपास तथा आवासीय स्थलों के निकट हरीतिमा पट्टियों का विकास करना
 

saving score / loading statistics ...