eng
competition

Text Practice Mode

बंसोड टायपिंग इन्‍स्‍टीट्यूट छिन्‍दवाड़ा मो.नं.8982805777

created Friday February 14, 07:51 by sachin bansod


0


Rating

266 words
482 completed
00:00
इस दुनिया में कोई ऐसा मुकाम या मंजिल ऐसी नहीं है जो इंसान की पहुँच से दूर हो। बिल गेट्स, स्‍टीव जॉव , माइकल जैक्‍सन, सचिन तेंदुलकर, नेल्‍सन मंडेला आदि जितने भी सफल और इतिहास बदलने वाले लोग इस दुनियां में हुए है, क्‍या आप जानते है कि इन सभी लोगो की सफलता का राज क्‍या है? ये सभी अलग-अलग जगहों से आकर अलग-अलग क्षेत्र में सफलता के नए शीर्ष स्‍थापित करने वाले लोग है। लेकिन इन सभी की सफलता के पीछे एक ही कारण रहा है, और वो ये है कि इन सभी व्यक्तियों ने कभी ये नहीं सोचा कि मैं ये काम नहीं कर सकता। बल्कि इन्‍होंने अपने मन मे ये सोच लिया था कि इसे सिर्फ मैं ही कर सकता हूँ। और मेरा इस दुनियां में जन्‍म ही इस काम को करने के लिए हुआ है। इनके इसी विश्‍वास ने इन्‍हें दुनियां के सबसे सफल व्‍यक्तियों में से एक बना दिया और इन्‍होंने इसी सोच और ताकत के दम पर पूरी दुनियां में एक बार फिर से इस सच को साबित कर दिया कि इंसान जो भी चाहे कर सकता है, बस जरूरत है एक दृढ़ सोच की और कभी ना टूटने वाले हौसलें की।
तो दोस्‍तों अगर आपने भी कुछ मुकाम या लक्ष्‍य अपनी जिंदगी के लिए बनाया है तो बिना कुछ सोचे-समझे, बिना किसी की सुने उस लक्ष्‍य को, उस मुकाम को हासिल करने के लिए पूरी शिद्दत से जुट जाइये और अपने मन मे ये निश्‍चय कर लीजिए कि जब तक मैं इस लक्ष्‍य को हासिल नहीं कर लेता तब तक मैं किसी के रोकने से भी नहीं रूकँगा।  
 

saving score / loading statistics ...