eng
competition

Text Practice Mode

जिमनी नं. 1 शुरु कर

created Wednesday September 16, 11:53 by devilal Khoradia


0


Rating

413 words
23 completed
00:00
बा सिलसिला रिपोर्ट जिमनी .. पूर्व लिखित ... के संबंध में निवेदन है कि  
मन SI  मय हमराही के रवाना अन्य कार सरकार में ईलाका थाना कोसली को होता हूँ।
हाल आबाद
जो मन PSI बराये करवाने जारी प्रोडेकशन वारंट आरोपी .. रवाना ड्यूटी मैजिस्ट्रेट रेवाडी को होता हूँ।
एक लिखित दरखास्त बाबत करवाने प्रोडकैशन वारंट आरोपी .. जो वारन्ट हासिल करके बराये हासिल करके तामील हवाले मुंशी अस्कोर्ट गार्ड के किया गया तथा ईमेल द्वारा भी जेल भेजा गया है।  
इस समय तक की तपतीश मुकदमा हजा की अदालत परिसर में होती रही है।और अब यहाँ कोई अन्य कोई तफतीश बकाया नहीं है। जहाँ पर कार्यकारी प्रबंधक आफसर हाजिर मिले जिनको मुकदमा हजा के बारे मे अवगत कराया गया। मन PSI अन्य दीगार कार सरकार में व्यस्त होता हूँ।  
श्रीमानजी , रिपोर्ट जीमनी हस्ब लिखी जाकर सेवा में अरसाल है एक लिखित दरखास्त बाबत लेने इजाजत शामिल तपतीश करने बारे आरोपी .. उपरोक्त PP  साहब से अग्रेसित कराकर माननीय अदालत मैं दी गई। मशरफ पुछताछ होता हूँ।
इस समय तक की मेरी तफतीश से ब्यानात गवाहन से मुकदमा हजा में सबूत काबिले गिरफ्तारी गुजरने पर आरोपी .. को मुकदमा में हस्ब जाबता गिरफ्तार किया गया। दौराने गिरफ्तारी माननीय उच्च न्यायालय DK BASU  के आदेशों की पालना करते हुए गिरफ्तारी की गई जो बर गिरफ्तारी समय आरोपी की जामा तलाशी अमल में  ली गई जिससे कोई वस्तु प्राप्त नहीं हुई गिरफ्तारी की सूचना पुत्र मोबाइल नं. पर दी गयी गिरफ्तारी मिमो अलग से तैयार किया गया। जो इलाका मजिस्ट्रेट की सेवा में भिजवाया गया। जिस पर आरोपीयों ने अपने अपने हस्ताक्षर किए।  
हुलिया रंग बा उम्र कद आँखे चेहरे पर मुर्दानगी छायी हुई चोट
उपरोक्त का जुडिशियल रिमांड 14 दिन का लिखा जाकर मार्फत pp साहब आरोपी को पेश अदालत पेश किया गया। जिसे माननीय अदालत द्वारा बंद अदालत जुडीशियल जेल नारनौल करवाने के सादर आदेश फरमाए गए है जिसका वारण्ट हासिल किया जाकर आरोपी मय वारंट हवाले जुडिशियल गार्द किया गया है। जो कुछ बतलाया का ब्यान मुफसल ब्यान जेर धारा 161 CRPC  अलग से लिखा गया है जो जैल है “ब्यान किया है कि मैं थाना कोसली में बतौर जनरल ड्यूटी सिं0 तैनात हूँ।   
आज मुकदमा हजा कि तफतीश में आपके साथ शामिल रहा है।
शामिलान तफ्तीश को बाद हिदायत फारिग किया गया। नकल शाखा। आईंदा आदेश हासिल किये जाकर मुकदमाहजा का चालान तैयार करके न्यायालय में दिया जावेगा। मशरुफ अन्य कार सरकार में रवाना इलाका थाना होता हूँ। साबका लिखित खुद के संबंध में अर्ज है कि  
 

saving score / loading statistics ...