eng
competition

Text Practice Mode

साँई टायपिंग इंस्‍टीट्यूट गुलाबरा छिन्‍दवाड़ा (म0प्र0) संचालक:- लकी श्रीवात्री मो0नां. 9098909565

created Oct 17th, 10:20 by lucky shrivatri


1


Rating

318 words
336 completed
00:00
भारत में नवरात्रि का त्‍यौहार 9 दिनों तक बहुत ही बड़े तौर पर मनाया जाता है। नवरात्रि त्‍यौहार के आखिरी दिन विजयदशमी या दशहरा का उत्‍सव मनाया जाता है। रामायण के अनुसार इसी दिन भगवान श्रीराम ने रावण का वध किया था। इस कारण सभी मोहल्‍लों और बड़े मैदानों में लोग रावण के बड़े पुतलों को जला कर खुशियों के साथ इस त्‍यौहार को मनाते है। नवरात्रि त्‍यौहार के दौरान पूरे पारंपरिक तथा रीति-रिवाज के साथ देवी दुर्गा मां के 9 अवतारों की पूजा की जाती है। माता दुर्गा के 9 रूपों के नाम है- शैलपुत्री, ब्रहमचारिणी, चन्‍द्रघंटा, कुष्‍मांडा, स्‍कंदमाता, कात्‍यायनी, कालरात्रि, महागौरी सिद्धिदात्री।  
हिंदू कैलेंडर के अनुसार चैत्र महीने में नवरात्रि त्‍यौहार को वसंत नवरात्रि के रूप मनाया जाता है जो आधुनिक युग के कैलेंडर के अनुसार मार्च के महीने में पड़ता है। वसंत नवरात्रि के नौवें दिन को राम नवमी के रूप मनाया जाता है। उसी प्रकार जून जुलाई के महीने में गुप्‍त नवरात्रि मनाया जाता है। इस दिन को गायत्री के रूप में भी जाना जाता है। अक्‍टूबर और नवंबर के महीने में शरद नवरात्रि मनाया जाता है जो हिंदू कैलेंडर के अनुसार अश्‍विन महीने के रूप में जाना जाता है। हिंदू कैलेंडर के पौष महीने में पौष नवरात्रि मनाया जाता है जो कि दिसंबर और जनवरी महीने में पड़ता है। अंत में जनवरी और फरवरी महीने के दौरान माघ महीने में माघ नवरात्रि मनाया जाता है।  
नवरात्रि त्‍यौहार के दौरान भक्‍त दिन में एक बार भोजन करके या कुछ लोग फल या मात्र पानी पीकर उपवास करते हैं या व्रत रखते है। भारत में अलग-अलग नवरात्रि के कई रंग और रूप देखने को मिलते हैं। उसी प्रकार भारत के पूर्वी राज्‍यों जैसे पश्चिमी बंगाल में जगह-जगह दुर्गा मां के पंडाल बनाए जाते हैं जहां भक्‍त दर्शन  के लिए पहुंचते है। वहां पर माता दुर्गा की पूजा करते है और उनसे सुख शांति की कामना करते है। कई जगहों में लोग दांडिया खेलते है।  

saving score / loading statistics ...