eng
competition

Text Practice Mode

बंसोड़ टायपिंग इंस्‍टीट्यूट मेन रोड़ गुलाबरा मो.नं.8982805777

created Thursday July 22, 04:01 by Ashu Soni


1


Rating

154 words
276 completed
00:00
अपने अर्जित ज्ञान पर घमंड करना, खुद से ऊपर किसी को भी समझना, ऐसी सोच हमें कहीं नहीं पहुंचा सकती है। ऐसा व्‍यक्ति सबकुछ पा कर भी अकेला ही रह जाता है। इसके विपरीत अपने ज्ञान से सबको उजाला देने वाले लोगों के आसपास हमेशा सीखने वालों का मजमा लगा रहता है। ऐसे लोग, जो घमंड से दूर रहते हैं और अपना ज्ञान बांटने में बिलकुल संकोच नहीं करते, वे हमेशा लोगों के दिलों पर राज करते हैं।  
हमें बताती है की जीवन में अनुभव और आत्‍मज्ञान कितना मायने रखता है। इसलिये किसी भी व्‍यक्ति को गुरू के साथ जो ज्ञान अर्जित किया जाता है उसे अपने आप सर्वश्रेष्‍ठ समझना गलत है। आज के युग में कोई भी व्‍यक्ति गुरू के ज्ञान को अर्जित करके गुरू से सर्वश्रेष्‍ठ समझता है और गुरू से ही प्रतिस्‍पर्धा की दौड़ लगाता है और गुरू के ही ज्ञान को अज्ञान समझकर अपने आपको सर्वश्रेष्‍ठ समझता है।  
 

saving score / loading statistics ...